November 29, 2021

किसान के बेटे ने महेश कुमार ने 17346 फीट चोटी पर देश का तिरंगा लहराया डिप्टी स्पीकर रणबीर गगाव ने किया सम्मानित माऊट एवरेस्ट की चौटी पर पहुचाने का टागरेट बनाया हिसार के जीजेयू में एमएससी कर रहा है महेश गांव आर्य नगर की आन बान शान महेश कुमार

दक्ष दर्पण समाचार सेवा

हिसार। हिसार के किसान के बेटे आर्य नगर के 22 वर्षीय महेश कुमार ने हिमाचल की फ्रेंडशिप चोटी 17346 फ़ ीट उंची फ्रेंडशिप झंडा फहरा हरियाणा प्रदेश व अपने गांव आर्य नगर का नाम रोशन किया है। इसी उपब्धि पर आज हिसार में डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने महेश कुमार को सम्मानित किया है गंगवा ने महेश को आश्वासन दिया है पार्वतारोही क्षेत्र में उसकी हर प्रकार से सहायता की जाएगी। महेश ने माऊट एवरेस्ट की चौटी पर पहुचाने का टागरेट बनाया।
आदर्श गांव आर्य नगर के महेश कुमार ने हिमाचल के मनाली स्थित फ्रेंडशिप चोटी पर तिरंगा लहराया है किसान परिवार श्री दाना राम कालोड का बेटा महेश ने 19 अक्टूबर को 26 पर्वतारोहियों के साथ सफर की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने 17346 फ ़ीट उंची फ्रेडशिप चोटी पर पहुंचने के लिए हाड़ कपा देने वाली ठंड माईनस 15 डिग्री तापमन और 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेज हवा से मुक़ाबला कियाद्य उन्होनें 19 अक्टूबर को 25 साथियों के साथ हरियाणा की तरफ से सर्वप्रथम चोटी पर तिरंगा लहराया। इससे पहले महेश कुमार हिमाचल की पहली बार चोटियों को फतेह कर दिया। महेश ने बताया कि उनकी टीम ने 25 लोग शामिल थे जिसमें चार लोग ही इस चौटी पर पहुंचे थे जिसमे हरियाणा प्रदेश से वह खुद शामिल थे। महेश कुमार का सपना अब माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फ हराने का है लेकिन महेश की आर्थिक स्थिति इस सपने में रोड़ा बन रही है। महेश कुमार ने बताया उसे पर्वतारोहन मे लाने में हिसार नरेन्द्र और करनाल से प्रितपाल सिंह पन्नू का मुख्य योगदान है अब उसका सपना दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फहराने का है लेकिन अर्थिक स्थिति आड़े आ रही है
एवरेस्ट पर जाने में 35 से 40 लाख आता है खर्च
महेश कुमार ने बताया की माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फहराने के लिए 35 से 40 लाख रूपए खर्च आता है लेकिन आर्थिक तंगी के चलते अपना अभ्यास सुचारू रूप से नहीं चला पा रहा हूँ इसके लिए उसने क्षेत्रीय व डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा गुहार लगाई है महेश कुमार ने कहा कि जिस प्रकार हरियाणा के खिलाडिय़ों ने ओलंपिक में पदक प्राप्त कर देश का मान बढ़ाया है और केंद्र व हरियाणा सरकार ने खेलों को लेकर जो उत्साह दिखाया है मुझे भी इससे कुछ उम्मीद जगी है। महेश कुमार ने कहा कि डिप्टी स्पीकर ने पूरा आशवासन दिया है उनकी हर तरह से मदद की जाएगी।
महेश कुमार का इन लोगो ने दिया पूरा सहयोग
महेश कुमार ने बताया कि पर्वात रोही क्षेत्र में उनके पिता दानाराम, डा. योगेश बिदानी, अनिल डिडारिया, दलबीर, दीपा तंवर, पवन, नवीन, नीलम, कांता अमित,महताब, सुरेंद्र, पीके मुदनिया, कुलदीप ने पूरा सहयोग दिया है दोस्तो व परिजनों ने मिठाईया बांट कर खुशी का इजहार किया है। महेश ने बताया वह हिसार के जीजेयू में एमएससी की पढाई रहा है और साथ साथ निफा के साथ जुक सामाजिक कार्य में विषेश भूमिका अदा कर रहा है। महेश कुमार निफा के तहत हिसार में 10 दिन का रक्तदान शिविर लगाकर 1494 यूनिट बल्ड एकत्रित चुका है

Previous post ऐलनाबाद को जींद के पैटर्न पर जीतने की भाजपा की कोशिश अंत तक रहेगी बरकरार।
Next post त्यौहारों के मद्देनजर पंचकूला के खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा0 गौरव शर्मा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने शहर की विभिन्न मिठाई की दुकानों, दूध की डेयरियों, आदि का किया गया औचक निरीक्षण – खाद्य पदार्थो के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए करनाल स्थित खाद्य प्रयोगशाला में भेजे-खाद्य सुरक्षा अधिकारी – दूषित व मिलावटी खाद्य पदार्थ/मिठाई बेचता पाया जाने पर संबंध्तिा दुकानदार के खिलाफ की जायेगी सख्त कार्यवाही-गौरव शर्मा