October 27, 2021

स्वामी सुमेधानंद सरस्वती फिर बने गुरूकुल आर्यनगर के प्रधान -एडवोकेट लाल बहादुर खोवाल को दोबारा सौंपी महामंत्री की जिम्मेदारी

दक्ष दर्पण समाचार सेवा
हिसार, 19 सितंबर।
गुरूकुल आर्यनगर का त्रिवार्षिक चुनाव रविवार को गुरूकुल परिसर में कराया गया। कार्यक्रम में बतौर चुनाव अधिकारी विक्रम मित्तल और सहायक चुनाव अधिकारी श्वेता शर्मा ने शिक्षा विभाग के पर्यवेक्षक नरसिंह वर्मा की देखरेख में 21 सदस्यीय कार्यकारिणी का चयन किया गया। इसमें एक बार फिर से सांसद स्वामी सुमेधानंद सरस्वती को प्रधान पद की जिम्मेदारी सौंपी गई, वहीं एडवोकेट लाल बहादुर खोवाल को महामंत्री चुना गया। इसके साथ ही सेठ जगदीश प्रसाद गुरेरा व राजकुमार आर्य को संरक्षक चुना गया है।
इसके अलावा रामकुमार आर्य को कार्यकारी प्रधान, सत्यप्रकाश मित्तल को उप मंत्री, कर्नल ओमप्रकाश को मैनेजर, इंद्रदेव शास्त्री को कोषाध्यक्ष, दीप कुमार को लेखा निरीक्षक तथा आचार्य रामस्वरूप शास्त्री को मानद कुलपति एवं मुख्य सलाहकार चुना गया। नई कार्यकारिणी में मानसिंह पाठक बतौर मुख्याधिष्ठाता जिम्मेदारी संभालेंगे। इसके अलावा पूर्व सांसद रामजीलाल के सुपुत्र सुभाष, डॉ एसके गुलाटी, डॉ सत्यवीर मलिक, शैलेष वर्मा, चंद्रदेव शास्त्री, निहाल सिंह डांगी और रामनिवास शिकारपुर को सदस्य मनोनीत किया गया। इसी प्रकार पदेन प्राचार्य के तौर पर जोगेंद्र व अध्यापक प्रतिनिधि के तौर पर रमेश कुमार को जिम्मेदारी सौंपी गई है, जबकि सुभाषवीर खैरा व कल्याणी आर्या को सदस्य बनाया गया है।
बॉक्स- ये रहेंगे विशेष आमंत्रित सम्मानित सदस्य
कार्यकारिणी के अलावा युद्धवीर आर्य, रामकुमार जाखड़, अभिमन्यु, कृष्ण पुत्र मोहर सिंह, लखीराम, बलवान गुलाडी, शशीकांत एसडीओ, रामनिवास गंगवा, घड़सीराम लुदास, रणसिंह मात्रश्याम, महेंद्र आर्यनगर, विजय पाल सरदारगढिया, जगतपाल शास्त्री, सुरेश भाणा, देवदत्त किरतान, सत्यवान बालक, गुलशन आदमपुर, डॉ संजय शर्मा, गणेश शास्त्री, एडवोकेट श्वेता शर्मा, डॉ सुमित्रा, विजेंद्र कुमार शास्त्री, रविंद्र पूनिया, को सम्मानित सदस्य मनोनीत किया गया।

Previous post सेवा ही समर्पण पखवाड़ा के तहत मनाया प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन।
Next post स्पैशल अभियान के अन्तर्गत अवैध हथियार सहित आरोपी चढा पुलिस के हत्थे, न्यायालय में पेशकर भेजा जेल