September 19, 2021

महिलाओं को राजनीति में आने की है जरूरत।आगामी निकाय चुनाव मे लें भाग। अशोक

दक्ष दर्पण समाचार सेवा

कुरुक्षेत्र, 24 जुलाई। आज महिलाओं को राजनीति में आने की आवश्यकता है और आगामी निकाय चुनावों को देखते हुए वैश्य महिलाओं में नेतृत्व क्षमता विकसित करने के उद्देश्य से महिला आरक्षित चेयरमैन सीटों व वार्डों पर बड़ी संख्या में वैश्य महिलाएं अपनी दावेदारी प्रस्तुत करने वाली है। ये बात अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने आज कुरूक्षेत्र में आयोजित समाज की लोकसभा स्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए कही। बैठक की अध्यक्षता लोकसभा अध्यक्ष प्रदीप सिंगला ने की। इस दौरान बुवानीवाला ने समाज की महिलाओं को सजग एवं सशक्त रहने की अपील करते हुए कहा कि नारी शक्ति के उत्थान के लिए एवं अधिकारों की सुरक्षा के लिए महिलाओं का राजनीति में उतरना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि समाज के उत्थान में नारी शक्ति की अहम भूमिका है। इसी के अनुरूप अग्रवाल वैश्य समाज भी वैश्य महिलाओं के सशक्तिरण के प्रति कटिबद्ध है और उन्हें समाजसेवा के साथ राजनीति के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक मंच दिया जा रहा है। बुवानीवाला ने कहा कि राजनीति में महिलाओं को कम आंकने की मानसिकता को बदलने के लिये शिक्षा व जागरूकता तो जरुरी है ही, लेकिन सबसे अहम महिलाओं का प्रतिनिधित्व बढ़ाना है। यह सब पंचायत और निकाय चुनावों से होते हुए संसद और विधानसभाओं में उनकी संख्या बढ़ाने से ही संभव हो पाएगा। बुवानीवाला ने कहा कि देश की आधी आबादी महिलाओं की है और आजादी के इतने लंबे अंतराल के बाद भी महिलाएं 33 प्रतिशत आरक्षण की हकदार पूरी तरह से नहीं बन पाई हैं, जबकि उनका हक 50 प्रतिशत का बनता है। उन्होंने कहा कि हमारे संविधान ने देश के प्रत्येक नागरिक को बराबरी का हकदार बनाया है और आज कानूनों में भी काफी बदलाव किए गए है, लेकिन पुरुषवादी सोच के चलते महिलाओं के 33 प्रतिशत आरक्षण विधेयक को जानबूझ कर लटकाना संविधान की मर्यादाओं का साफ तौर पर उल्लंघन है। बुवानीवाला ने कहा कि बहुतों को यह लगता हैं कि राजनीति में महिलाएं बड़े फैसले लेने में या नीतियां बनाने में सक्षम नहीं होंगी परन्तु विडंबना यह है कि ये बातें पुरुष उम्मीदवारों को चुनते वक्त नहीं देखी जाती। उन्होंने सावित्री जिंदल और कविता जैन का उदाहरण देते हुए कहा कि समाज की महिलाओं को हमारी इन महिला नेत्रियों से प्रेरणा लेने की जरूरत है ताकि महिलाऐं अन्य क्षेत्रों की तरह राजनीतिक क्षेत्र में भी आगे आए।
समाज के महासचिव राजेश सिंगला ने कहा कि निकाय चुनाव में कुरूक्षेत्र की महिला आरक्षित चेयरमैन सीट पर समाज अपनी दावेदारी ठोकने जा रहा है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही कुरूक्षेत्र के सभी पदाधिकारियों एवं समाज के प्रमुख लोगों की बैठक कर सर्वसम्मति से समाज की एकमत उम्मीदवार को प्रत्याशी बनाया जाएगा। राजेश सिंगला ने कहा कि प्रदेश की अन्य निकायों में भी इसी फार्मूले के तहत काम किया जाएगा ताकि समाज के ज्यादा से ज्यादा चेयरमैन एवं पार्षद जीतकर आगे आ सकें।
चुनाव समन्वय समिति के चेयरमैन विकास गर्ग ने कहा कि प्रदेश में निकाय चुनाव की घोषणा के साथ ही समाज के उम्मीदवारों को जीताने के लिए पर्यवेक्षकों की घोषणा भी कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों की तर्ज पर ये पर्यवेक्षक समाज के प्रत्याशियों की चुनावी बागडोर संभालते हुए उन्हें जिताने के लिए समाज के लोगों को वोट पोलिंग बूथ तक पहुंचाने और समाज के प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान करने का काम करेंगे।
महिला प्रदेश अध्यक्ष सुशीला सर्राफ ने कहा कि वैश्य महिलाऐं अब रसोई की दुनियाँ से निकल कर विभिन्न क्षेत्रों में प्रवेश करने लगी। आज महिलाएं तकनीकी, चिकित्सा, मीडिया, सेना, विमानन, कारपोरेट क्षेत्रों में कामयाबी गढ़ रही है अब आवश्यकता है तो सिर्फ राजनीतिक क्षेत्र में भी इस अपवाद को साबित करने की। उन्होंने कहा कि अग्रवाल वैश्य समाज ने इस दिशा अपने गठन के समय से ही अपना रूख साफ किया हुआ है और उसी का परिणाम है कि वैश्य महिलाऐं अब घर की चार दीवारी से बाहर निकल पंचायत, नगर पालिका, नगर परिषद और नगर निगमों में अपना नेतृत्व देने के लिए आगे आ रही है।
बैठक में प्रदेश सचिव अंकुश जैन, छात्र इकाई के प्रदेश अध्यक्ष वेद प्रकाश गर्ग व सोशल मीडिया संयोजक हिमांशु गोयल ने भी अपने विचार रखे और समाज के लोगों को किसी भी स्तर के चुनाव के लिए भागदारी करने के लिए प्रेरित किया। अकुंश जैन राजनीतिक पार्टीयों के संगठन चुनाव में वैश्य युवाओं की भागीदारी पर अपना विजन रखा। छात्र अध्यक्ष वेद प्रकाश गर्ग ने कहा कि समाज की छात्र इकाई चुनावों के लिए उत्साहित है। उनकी टीम छात्र चुनाव की तरह ही निकाय चुनाव को देख रही है। वहीं हिमांशु गोयल ने युवाओं को संगठन की सोशल मीडिया सैल के महत्व को समझाते हुए सोशल मीडिया पर सक्रिय होने के लिए कहा।
इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारी प्रधान सुभाष तायल, लोकसभा अध्यक्ष प्रदीप सिंगला, महिला प्रदेश उपाध्यक्ष निशी गुप्ता, अधिवक्ता अरविंद सिंगल, विनिता तायल, सरोज सिंगला, प्रोमिला गर्ग, स्वाती गुप्ता, रेखा गर्ग, अमित गर्ग शैंकी, रोहित सिंगला लाड़वा, तरसेम गर्ग शाहबाद, रिभव सागर, मोहित गर्ग, लाजपत राय सिंगला, विपिन गर्ग, अशोक गर्ग, सुमीत गर्ग, अजय गुप्ता, अंकुर, रजत तायल, गौरव गर्ग, शुभम गुप्ता, राहुल सिंगला, मुनिष सिंगला, मुनिष सिंगला, इंदु गुप्ता, रक्षा मित्तल, शुभम तायल, मनवीर कौर, सरपंच राजेन्द्र कुमार मित्तल, देवेन्द्र सिंह नरवाल, अनुज गोयल, राजकुमार सहित अनेक वैश्यजन उपस्थित थे।

Previous post जेजेपी ने अपने संगठन में किया विस्तार – बीसी सेल में 34 वरिष्ठ पदाधिकारी किए नियुक्त – कृष्ण गंगवा को बनाया प्रदेश प्रभारी – राम मेहर ठाकुर होंगे प्रदेशाध्यक्ष
Next post पानी की मोटर चोरी करने के मामले में एक गिरफ्तार l